Sabudana Vada2

फलाहारी साबूदाना वड़ा


बाहर से कुरकुरी परत वाले, साबूदाना के साथ उबले आलू के साथ दरदरी कुटी मूंगफली को मिला कर बने साबूदाना वड़ा चाहे सावन माह के व्रत मे या अन्य किसी व्रत में बनाईये. गर्मागर्म चटनी के साथ परोसिये, सभी को ये बेहद पसंद आयेंगे.

सामग्री:-

साबूदाना,भीगे हुए – 1 कप
आलू,उबले हुए – 5
मूंगफली के दाने,भूने और दरदरी कुटे – ½ कप
हरा धनिया,बारीक कटा हुआ – 2-3 बड़े चम्मच
सैंधा नमक – 1 छोटी चम्मच
हरी मिर्च,बारीक कटी हुई – 3
काली मिर्च,दरदरी कुटी हुई – 8-10
तेल – तलने के लिए

विधि:-

– साबुदाना को धो कर 2 घंटे के लिये 1 कप पानी में भिगो दीजिए, साबूदाने में भीगने के बाद अगर अतिरिक्त पानी दिखाई दे तो उसे हटा दीजिये.

– आलू को छीलकर,बारीक मैश कर लीजिए. मैश किए हुए आलू को साबुदाना में डाल दीजिए साथ ही इसमें सैंधा नमक, बारीक कटी हुई हरी मिर्च, दरदरी कुटी काली मिर्च, बारीक कटा हरा धनिया और दरदरी कुटी हुई मूगफली डाल कर सभी चीजों को अच्छी तरह मिला लीजिये. वड़े बनाने के लिए मिश्रण तैयार है.

– कढ़ाई में तेल डाल कर गरम कीजिये. मिश्रण से थोड़ा सा, मिश्रण निकाल कर गोल कीजिये और हथेली से दबाकर चपटा करें, तैयार वड़े को प्लेट में रख दीजिए, इसी तरह से सारे वड़े बना कर तैया कर लीजिए.

– वड़ों को गरम तेल में डालिये और पलट पलट कर सुनहरा होने तक तल लीजिये.प्लेट में बिछे नैपकिन पेपर पर रख लीजिये. इसी तरह सारे वड़े तलकर तैयार कर लीजिये.

– साबूदाना वड़े तैयार हैं. गरमा गरम साबूदाना वड़े को हरे धनिये की चटनी, मीठी चटनी या टमैटो सॉसे के साथ परोसिये.

सुझाव:

-वड़े तलने के लिये तेल अच्छा गरम होना चाहिये, वड़े अगर कम गरम तेल में तलने के लिये डाल दिये जायं तो वे अपने अन्दर तेल एब्जोर्ब कर लेते हैं, या तेल में बिखर सकते हैं.

-साबूदाना वड़ा अगर व्रत के लिये नहीं बना रहे हैं, तब सादा नमक और लाल मिर्च पाउडर का यूज कीजिये.

0 0